Navabharat – Hindi News Website
No Comments 13 Views

चीन की दक्षिण चीन सागर में सैन्य जमावड़ा बढ़ाने की धमकी

बीजिंग. चीन ने कहा है कि अगर अमेरिका दक्षिण चीनी सागर में स्थिति को केवल भड़काना ही चाहता है ताे उसके पास अपनी तरफ से सैन्य जमावड़े को बढ़ाने के अलावा कोई और विकल्प नही है. चीन के शीर्ष समाचार पत्र द फॉक्स न्यूज ने आज यह जानकारी दी. चीन का यह बयान ऐसे समय आया है जब बुधवार को अमेरिकी नौसेना का जंगी जहाज यूएसएस हाॅपर पश्चिमी फिलीपींस के बेहद नजदीक से होकर गुजरा था और शुक्रवार को अमेरिकी रक्षा मंत्री जिम मैटिस ने नई रक्षा नीति की खुलासा करते हुए कहा था कि अातंकवाद से अधिक चीन और रूस इस समय हमारे लिए सबसे बड़ा खतरा है. उनका यह बयान ऐसे समय आया है जब ट्रंप प्रशासन उत्तर कोरिया के मसले पर चीन से सहयोग मांग रहा है. चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता लु कांग ने शनिवार को कहा था कि बुधवार को चीन सेना की अनुमति के बगैर अमेरिकी जंगी बेड़े के स्कारबाेराे शोहाल क्षेत्र में बहुत नजदीक से होकर जाने के मद्देनजर हम अपनी संप्रभुता की रक्षा के लिए हर संभव कदम उठाएंगे. इस क्षेत्र में हालांकि अमेरिका अपना कोई अधिकार नहीं जताता है लेकिन उसका कहना है कि इस क्षेत्र में जो क्षेत्रीय विवाद हैं वे संबद्व पक्षों के बीच अंतरराष्ट्रीय कानूनों के मुताबिक शांति से सुलझ जाएं और वह यही सुनिश्चित कराना चाहता है.

चीन ने दक्षिण चीन समुद्री में बमवर्षक विमान की तैनाती की
चीन ने दक्षिण चीनी समुद्र में किसी भी तरह के आक्रमण आैर खतरे से निपटने के लिए अत्याधुनिक बम वर्षक विमान एच- 6 जी की तैनाती की है जो इलैक्ट्रानिक काउंटरमेजरर्स पॉड्स (ईसीएम) से युक्त है. स्थानीय मीडिया के अनुसार इस विमान को समाघात अभियानों में इस्तेमाल किया जा सकेगा और इसमें इलैक्ट्रानिक जैमर ,तथा विकिरण निरोधी खूबियां हैं. इसके डैनों के नीचे इसीएम पॉडस लगे हैं जो हर तरह की अापात स्थिति में काम कर सकते हैं. चीन के सेंट्रल टेलीविजन सीसीटीवी ने बताया कि यह पहला मौका है जब किसी बम वर्षक विमान को इलैक्ट्रानिक युद्ध में सहायक भूमिका के लिए उतारा गया है. सैन्य मामलाें के विशेषज्ञ साँग झाेंगपिंग के हवाले से ग्लोबल टाइम्स ने बताया कि इस बम वर्षक विमान की खूबी यह है कि यह दुश्मन की इलैक्ट्रानिक जैमिंग प्रणाली को निष्क्रिय करने में सक्षम है उदाहरण के तौर पर राडार को अस्थायी अथवा हमेशा के लिए जाम कर देता है और उनके निगरानी उपकरणों को धोखा देकर अपने लडाकू प्लेटफार्म ट्रैक को छिपा लेता है.

LEAVE YOUR COMMENT

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to Top