Navabharat – Hindi News Website
No Comments 23 Views

गडकरी ने जारी किया देश का पहला सड़क मैन्युअल

नयी दिल्ली. सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने सुरक्षित सडकों के डिजाइन और निर्माण के लिए स्वदेशी नियमावली को समय की जरूरत बताते हुये आज कहा कि इंडोनेशिया जैसे देश हमसे दशकों पहले इस तरह के अपने मैन्युल तैयार कर चुके हैं. गडकरी ने व्यापक शोध के आधार पर तैयार सुरक्षित राजमार्गों के विकास के लिए देश के पहले ‘राजमार्ग क्षमता मैन्युअल’ को जारी करते हुए कहा कि सड़क इंजीनियरिंग और नीति का मैन्युअल हमारे यहां अब तैयार हुआ है जबकि इंडोनेशिया में इस तरह का मैन्युअल 1996 में ही बन गया था. इसी तरह से अमेरिका, चीन, मलेशिया, ताइवाइन आदि देशों ने राजमार्ग क्षमता विकास के अपने मैन्युअल बहुत पहले तैयार कर लिये थे. हमारे यहां पहली बार मैन्युअल तैयार किया गया है. भारतीय राजमार्ग क्षमता मैन्युअल को वैज्ञानिक एवं औद्योगिक अनुसंधान परिषद के तहत आने वाले केंद्रीय सड़क शोध संस्थान (सीएसआईआर-सीआरआरआई) के विशेषज्ञों ने देश के विभिन्न हिस्सों में छोटी, बड़ी, एक लेन, दो लेन तथा इससे ज्यादा लेने वाली विभिन्न सड़कों पर संचालित यातायात को लेकर व्यापक शोध के आधार पर तैयार किया है. इस शोध में देश की तीन प्रमुख आईआईटी रुड़की, गुवाहाटी तथा मुंबई के साथ ही चार अन्य प्रमुख संस्थानों एसपीए नयी दिल्ली, आईआईईएसटी शिवपुर, एसवीपीएनआईटी सूरत तथा अन्ना विश्वविद्यालय चेन्नई भी शामिल रहे हैं. केंद्रीय मंत्री ने कहा कि देश में जितनी सड़क दुर्घटनायें होती हैं उनमें 80 प्रतिशत की वजह सड़कों के निर्माण के लिए परियोजना रिपोर्ट की खामियां जिम्मवार होती हैं. वाहन चालक सभी दुर्घटनाओं के लिए जिम्मेदार नहीं होता, इसकी वजह परियोजना रिपोर्ट की गड़बड़ी होती है. उन्होंने कहा कि देश में लाखों लोगों की जान सड़क दुर्घटनाओं में जा रही है और इसके लिए सिर्फ वाहन चालक को ही जिम्मेदार ठहराया जाता है जो गलत है.

LEAVE YOUR COMMENT

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to Top