Navabharat – Hindi News Website
No Comments 12 Views

अगस्तावेस्टलैंड मामला: रमन सरकार को बड़ी राहत

नयी दिल्ली/रायपुर. उच्चतम न्यायालय ने अगस्तावेस्टलैंड हेलीकॉप्टर खरीद मामले में छत्तीसगढ़ की रमन सिंह सरकार को बड़ी राहत प्रदान करते हुए इस मामले में जांच की मांग करने वाली याचिका आज निरस्त कर दी. न्यायमूर्ति आदर्श कुमार गोयल और न्यायमूर्ति उदय उमेश ललित की पीठ ने मामले की जांच संबंधी गैर-सरकारी संगठन स्वराज अभियान की याचिका खारिज कर दी. याचिकाकर्ता की ओर से जाने-माने वकील प्रशांत भूषण ने दलील दी थी कि रमन सिंह सरकार ने इस वीवीआईपी हेलीकॉप्टर की खरीद में पारदर्शिता नहीं बरती थी. याचिकाकर्ता का आरोप था कि हेलीकॉप्टर खरीद में अधिक रकम दी गयी थी. उल्लेखनीय है कि 2007 में छत्तीसगढ़ सरकार ने अगस्तावेस्टलैंड कंपनी से हेलीकॉप्टर खरीदा था. तभी से इस सौदे में कथित भ्रष्टाचार के आरोपों पर मामला विचाराधीन था. इससे पहले 16 नवंबर 2017 को शीर्ष अदालत ने छत्तीसगढ़ की डॉ. रमन सिंह सरकार से हेलीकॉप्टर खरीदने संबंधी फाइल तलब की थी. इसमें एक हफ्ते में राज्य सरकार को मूल दस्तावेज की फाइल अदालत में जमा कराने के निर्देश दिये गये थे. पीठ ने राज्य सरकार से पूछा था कि आखिर अगस्तावेस्टलैंड हेलीकॉप्टर ही खरीदा जायेगा, यह फैसला किसने लिया था. इस मामले में सुनवाई के दौरान भूषण ने सौदे के विभिन्न पहलुओं पर सवाल खड़े किये थे. न्यायालय ने भी कई बिंदुओं पर विचार—विमर्श किया था. न्यायालय ने कहा था कि उसके लिए यह जानना जरूरी है कि जब मुख्य सचिव ने अपने नोट में किसी भी हेलीकॉप्टर की खरीद की बात लिखी थी तो फिर अगस्ता के लिए ही निविदा जारी क्यों हुई. याचिककर्ता की ओर से पेश भूषण ने आरोप लगाया है कि छत्तीसगढ़ सरकार ने इतालवी कंपनी अगस्ता-वेस्टलैंड से तय कीमत से ज़्यादा पैसे देकर हेलीकॉप्टर खरीदा था. उन्होंने सूचना के अधिकार (आरटीआई) कानून के तहत प्राप्त कुछ दस्तावेजों का भी हवाला दिया था.

अगस्ता वेस्टलैंड मामले के खारिज होने का कौशिक ने किया स्वागत
भारतीय जनता पार्टी की छत्तीसगढ़ इकाई के अध्यक्ष धरम लाल कौशिक ने उच्चतम न्यायालय द्वारा अगस्ता वेस्टलैंड मामले के खारिज किए जाने का स्वागत करते हुए कहा कि झूठ की राजनीति करने वाले चित हो गए है. कौशिक ने यहां जारी बयान में कहा कि कांग्रेस विधायक दल के नेता एवं नेता प्रतिपक्ष टी एस सिंहदेव की याचिका आज शुभ दिन महाशिवरात्रि के दिन खारिज होना सत्य की जीत है और झूठ की राजनीति करने वाले चारों खाने चित हुए है. एक के बाद एक कांग्रेस कांग्रेस का झूठ बेनकाब हो रहा है. उच्चतम न्यायालय का यह फैसला अपने आप मे बहुत महत्वपूर्ण है जिसने कॉग्रेस के गुब्बारे की हवा निकाल दी है. उन्होंने कहा कि इस फैसले से मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह और सांसद अभिषेक सिंह बेदाग साबित हुए है.

LEAVE YOUR COMMENT

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to Top