Navabharat – Hindi News Website
No Comments 8 Views

विदेशी आतंकवादी का शव बरामद, जनजीवन पर असर

श्रीनगर/नयी दिल्ली/जम्मू. उत्तरी कश्मीर के बांदीपोरा जिले में आज एक विदेशी लश्करे-तैयबा आतंकवादी का शव बरामद किये जाने के बाद हुए विरोध प्रदर्शन और हड़ताल के आह्वान के कारण जनजीवन प्रभावित रहा. पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि सोमवार को आतंकवादियों के छिपे होने की एक गुप्त सूचना मिलने पर सुरक्षा बलों ने जिले के हाजन स्थित बोन मोहल्ला को घेर लिया था. इस दौरान वहां आतंकवादियों और सुरक्षा बलों के बीच गोलीबारी भी हुयी. उन्होंने बताया कि मुठभेड़ में घायल हुए आतंकवादी का शव पाये जाने की पुलिस को सूचना मिली तो ग्रामीणों से शव पुलिस को सौंप देने का अनुरोध किया गया, लेकिन ग्रामीणों ने कुछ असामाजिक तत्वों के नेतृत्व में आतंकवादी के शव को सुपुर्दे खाक कर दिया. प्रवक्ता ने बताया कि पुलिस उन लोगों के खिलाफ जरूरी कानूनी कार्रवाई शुरू की गई है जिन्होंने विरोध का नेतृत्व किया और स्थानीय लोगों को उकसाया. इस बीच हाजीन और आस-पास के इलाकों में सभी दुकानों और व्यावसायिक प्रतिष्ठानें बंद रहीं. सड़क पर दूर-दूर तक कोई यातायात नहीं था. आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि आतंकवादी को दफनाने के बाद क्षेत्र में विरोध प्रदर्शन शुरु किया गया.

राजनाथ से मिली महबूबा मुफ्ती,कश्मीर पर की चर्चा
जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने आज यहां केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात की और राज्य में सुरक्षा की स्थिति तथा विकास योजनाओं के बारे में विस्तार से बातचीत की. आधिकारिक सूत्रों के अनुसार सुश्री मुफ्ती गृह मंत्री से मिलने के लिए सुबह उनके आवास पर पहुंची और उन्हें राज्य की विकास परियोजनाओं की प्रगति की जानकारी दी. जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा बलों पर पत्थरबाजी की घटनाओं में लिप्त लोगों के मुकदमें वापस लेने की प्रक्रिया शुरू होने के बाद मुख्यमंत्री की केन्द्रीय गृह मंत्री के साथ पहली मुलाकात है. पत्थरबाजी की घटनाओं में शामिल लोगों के खिलाफ मुकदमों को वापस लेने को राज्य में स्थिति सामान्य बनाये जाने की दिशा में बड़े कदम के रूप में देखा जा रहा है. सूत्रों के अनुसार दोनों नेताओं ने घाटी में सुरक्षा की स्थिति और आतंकी हिंसा की घटनाओं से निपटने के लिए उठाये कदमों के बारे में भी चर्चा की. राज्य में सभी वर्गों के लोगों के साथ बातचीत के लिए नियुक्त केन्द्र के वार्ताकार दिनेश्वर शर्मा की बैठकों की पृष्ठभूमि में भी स्थिति को सामान्य बनाने से संबंधित विभिन्न पहुलओं पर बातचीत हुई. पाकिस्तान की ओर से संघर्ष विराम उल्लंघन कर सीमावर्ती क्षेत्रों में नागरिक ठिकानों पर गोलाबारी से हुए नुकसान के बारे में भी मुख्यमंत्री ने गृह मंत्री को अवगत कराया. केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने कल ही एक आदेश जारी कर कहा है कि वह राज्य सरकार को गोलाबारी से स्थानीय लोगों को हुए जान माल के नुकसान की भरपायी करेगा.

संघर्ष विराम उल्लंघन पर भारत का पाक को जवाब
पाकिस्तान ने बगैर किसी उकसावे के आज जम्मू कश्मीर के राजौरी के भीमबर गली इलाके में नियंत्रण रेखा पर गोलीबारी की जिसका भारतीय सैनिकों की ओर से भी करारा जवाब दिया गया. रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने बताया,“आज सुबह करीब पौने नौ बजे पाकिस्तानी सेना ने बगैर किसी उकसावे के नियंत्रण रेखा पर बीजी सेक्टर में छोटे और स्वचालित हथियारों और मोर्टारों से अंधाधुंध गोलीबारी शुरू कर दी.” उन्होंने बताया कि भारत की ओर से इसका प्रभावी जवाब दिया गया. प्रवक्ता के मुताबिक गोलीबारी अभी भी जारी है और अब तक किसी प्रकार के जान-माल की सूचना नहीं है. उल्लेखनीय है कि पाकिस्तान ने कल भी और रविवार को राजोरी और पुंछ जिले में संघर्षविराम का उल्लंघन करते हुए गोलीबारी की थी.

LEAVE YOUR COMMENT

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to Top