दुनिया का नौवां सबसे बड़ा हथियार आयातक, IAEA के साथ संबंधों में मजबूती की ओर अग्रसर पाक | Navabharat - Hindi News Website
Navabharat – Hindi News Website
No Comments 5 Views

दुनिया का नौवां सबसे बड़ा हथियार आयातक, IAEA के साथ संबंधों में मजबूती की ओर अग्रसर पाक

 

पाकिस्तान दुनिया का नौवां सबसे बड़ा हथियार आयातक देश
इस्लामाबाद. पाकिस्तान दुनिया का नौंवा सबसे बड़ा हथियार आयातक देश है हालांकि पिछले पांच वर्षों में उसके शस्त्रों के आयात में 36 प्रतिशत की कमी दर्ज की गयी है. स्टॉकहोम इंटरनेशनल पीस रिसर्च इंस्टीट्यूट (एसआईपीआरआई) की एक रिपोर्ट के अनुसार अमेरिका-पाकिस्तान संबंधों में आ रही खटास उसके हथियारों के आयात में कमी आने का अहम कारण हो सकती है. पूर्व में अमेरिका पाकिस्तान को हथियार निर्यात करने वाला एक प्रमुख देश था. रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान की घरेलू वित्तीय कठिनाइयां रक्षा क्षेत्र को प्रभावित कर रही हैं. पाकिस्तान दुनिया का नौवां सबसे बड़ा हथियार आयातक देश तो है लेकिन पड़ोसी भारत के साथ सीमा पर बढ़ रहे तनाव और आंतरिक टकरावों के बावजूद देश में हथियारों का आयात पिछले पांच वर्षों में काफी हद तक कम भी हुआ है. पाकिस्तान ने इस वित्तीय वर्ष में अपनी सेना के लिए सात अरब डालर का बजट निर्धारित किया है. पाकिस्तान ने 2013-17 के बीच दुनिया कुल बिक्री किये गये हथियारों में से 2.8 प्रतिशत शस्त्र खरीदे हैं. एसआईपीआरआई के अनुसार चीन, पाकिस्तान को हथियार निर्यात करने वाला सबसे बड़ा देश बना हुआ है. अमेरिका, पाकिस्तान को हथियार बेचने वाला दूसरा सबसे बड़ा राष्ट्र है. रूस जिसके हाल के वर्षों में पाकिस्तान के साथ संबंध बेहतर हुए हैं, इस देश को हथियारों को निर्यात करने वाला तीसरा सबसे बड़ा देश है.

पाकिस्तान आइएईए के साथ संबंधों में मजबूूती की ओर अग्रसर
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहिद खाकन अब्बासी ने कहा है कि परमाणु तकनीकी के शांतिपूर्ण उद्देश्यों के उपयोग में एक दशक से अधिक समय के अनुभव के मद्देनजर इस्लामाबाद अंतरराष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी (आइएईए) के साथ अपनी सहभागिता को और बढ़ाते हुए सतत वैश्विक विकास लक्ष्य की प्राप्ति में योगदान करने के लिए तैयार है. अब्बासी ने अाइएईए के महानिदेशक युकिया आमनो से साेमवार को पाकिस्तान और आइएईए के बीच सहयोग के मुद्दों पर बातचीत के दौरान यह बात कही. प्रधानमंत्री ने कहा कि परमाणु ऊर्जा के नागरिक उपयोग में महत्वपूर्ण अनुभवों के कारण आज देश उस मुकाम पर खड़ा है जहां से वह आइएईए के विभिन्न कार्यक्रमों और गतिविधियों में एक सर्विस प्रोवाइडर की भूमिका निभा सकता है. अब्बासी ने पाकिस्तान में परमाणु प्रौद्योगिकी के शांतिपूर्ण उपयोग में बढ़ावा देने में आइएईए की सकारात्मक भूमिका की सराहना की. उन्होंने देश की परमाणु ऊर्जा विकास की योजनाओं के बारे में आइएईए प्रमुख को अवगत कराया.

LEAVE YOUR COMMENT

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to Top