Navabharat – Hindi News Website
No Comments 16 Views

नौसेना की पनडुब्बियों की अनकही कहानी डिस्कवरी पर

नयी दिल्ली. समुद्र की गहराइयों से देश के दुश्मनों पर पैनी नजर रखने वाली और पलक झपकते ही दुश्मन के युद्धपोतों को सागर में समा देने वाली पनडुब्बियों और उनका संचालन करने वाले रणबांकुरों की अनकही कहानी डिस्कवरी चैनल पर देखी जा सकती है. डिस्कवरी चैनल ने नौसेना के सहयोग से चार एपिसोड का सिलसिलेवार कार्यक्रम तैयार किया है, जिसमें पनडुब्बियों को बनाने से लेकर, उनकी कार्य प्रणाली तथा उनमें तैनात अधिकारियों तथा जवानों के बारे में तमाम जानकारी रोचकपूर्ण ढंग से दिखाई गयी है. आगामी 19 मार्च से शुरू होने वाले इस कार्यक्रम में पनडुब्बियों में तैनाती से पहले के प्रशिक्षण से लेकर समुद्र की गहराइयों में उनके जीवन के सभी पहलुओं पर विस्तार से प्रकाश डाला गया है. कार्यक्रम में भारत की परंपरागत से लेकर प्रमाणु पनडुब्बी तक की यात्रा के साथ साथ पनडुब्बियों की खरीदार रही भारतीय नौसेना के खुद की अत्याधुनिक पनडुब्बी बनाने के सफर को दिखाया जायेगा. डिस्कवरी के साथ साथ यह कार्यक्रम सशस्त्र सेनाओ को समर्पित डिजिटल चैनल वीर बाय डिस्कवरी पर भी प्रसारित किया जायेगा. नौसेना के वाइस एडमिरल श्रीकांत ने अाज इसकी जानकारी देते हुए कहा कि नौसेना की पनडुब्बी शाखा ने पिछले वर्ष ही अपने गाैरवशाली इतिहास के 50 वर्ष पूरे किये हैं और वह अपनी स्वर्ण जयंती मना रही है. उन्होंने कहा कि आम लोगों को पनडुब्बी की गतिविधियों के बारे में अमूमन कम ही पता है क्योंकि यह समुद्र की गइराइयों से देश की रक्षा के अपने मिशनों काे अंजाम देती है. उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम के माध्यम से लोगों को पनडुब्बियों पर तैनात प्रतिभाशाली तथा जांबाज जवानों के बारे में जानकारी मिलेगी. उन्होंने कहा उन्हें लगता है कि यह कार्यक्रम देशवासियों के लिए हैरतअंगेज और आंखें खोलने वाला होगा क्योंकि उन्हें नौसेना के रणबांकुरों और वे किन परिस्थितियों में काम करते हैं इसकी झलक देखने को मिलेगी. डिस्कवरी चैनल के अनुसार इस कार्यक्रम का प्रसारण अगले सोमवार से रात नौ बजे किया जायेगा.

LEAVE YOUR COMMENT

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to Top