कांग्रेस का आरोप : छत्तीसगढ़ में भी विकास पागल हो गया | Navabharat - Hindi News Website
Navabharat – Hindi News Website
No Comments 17 Views

कांग्रेस का आरोप : छत्तीसगढ़ में भी विकास पागल हो गया

रायपुर.  पूर्व नेता प्रतिपक्ष रविन्द्र चौबे ने पीडब्ल्यूडी मंत्री राजेश मूणत द्वारा विभाग के 14 साल के कामकाज और गिनाई उपलब्धियों पर तंज कसते हुए कहा कि गुजरात की तरह छत्तीसगढ़ में भी विकास पागल हो गया है. वियतनाम के पुल और सड़क को कोरिया का पुल बताने वाले मंत्री हकीकत में रायपुर पश्चिम के ही मंत्री हैं.  श्री चौबे गुरुवार को राजधानी के कांग्रेस भवन में पत्रकारों से चर्चा कर रहे थे. मालूम हो कि आगामी 12 दिसंबर को रमन सरकार के 14 साल पूरे हो जाएंगे. इस मौके पर सभी मंत्री प्रेस कांफ्रेस के जरिए अपने-अपने विभागों की उपलब्धियां गिना रहे हैं तो दूसरी ओर मुख्य विपक्षी पार्टी उनकी उपलब्धियों पर सवाल खड़े कर रही है. इसी कड़ी में नेता प्रतिपक्ष श्री चौबे ने कहा कि 14 सालों में विभागों के बजट में कई गुना वृद्धि हुई है. पैसे का फ्लो जिस तरह बढ़ा है, उससे भ्रष्टाचार और कमीशनखोरी भी बढ़ी है. उन्होंने आरोप लगाया कि पीडब्ल्यूडी में विकास पागल हो गया है. उन्होंने उदाहरण दिया कि राजनांदगांव में फ्लाईओवर बनाया गया. अब उस फ्लाईओवर को बंद कर नया निर्माण चालू किया गया है. इसी तरह राजधानी के देवेन्द्रनगर सड़क में हर तीन माह में निर्माण कार्य होता है. बार-बार निर्माण और खर्च के पीछे कमीशन का बड़ा खेल है. श्री चौबे ने सवाल खड़ा किया कि हर सड़क को हर 6 महीने में दुबारा बनाने की नौबत क्यों आती है? क्यों पुलों में सालभर के अंदर ही दरार आती है? उन्होंने आरोप लगाया कि ठेकेदारों के साथ कमीशन का बड़ा खेल चल रहा है. प्लानिंग का पूर्णत: अभाव है. कांग्रेस के कार्यकाल में नार्थ-साउथ कॉरिडोर की बात हुई थी, 14 सालों में इस दिशा में कोई शुरुआत नहीं हुई. श्री चौबे ने कहा कि आॅनलाइन टेंडरिंग भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गया है. बिलासपुर में निर्माणाधीन पुल और रायपुर में सर्किट हाउस की छत ढह गई, कार्रवाई के नाम पर ठेकेदारों को बचा लिया गया. निर्माण कार्यों की क्वालिटी पर कोई नियंत्रण नहीं है. चिल्फी से सिमगा तक की सड़क पूरी नहीं हुई है और पूरा भुगतान हो चुका है. बताते हैं कि इस सड़क का निर्माण भी मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री के रिश्तेदार कर रहे हैं.

LEAVE YOUR COMMENT

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to Top