Navabharat – Hindi News Website
No Comments 26 Views

मोदी आसियान शिखर सम्मेलन के लिए मनीला पहुंचे

मनीला. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 31वें आसियान शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए आज तीन दिन की यात्रा पर फिलीपींस की राजधानी मनीला पहुंचे. आसियान के स्वर्ण जयंती समारोह के मौके पर इस साल इन शिखर सम्मेलनों की भारत के लिये खास अहमियत है. आसियान शिखर सम्मेलन, इससे संबंधित बैठकों और स्वर्ण जयंती समारोह के साथ-साथ चलेगा. इस साल भारत-अासियान संवाद की 25वीं वर्षगांठ है. यह भारत आसियान साझेदारी का 15वां और भारत आसियान रणनीतिक साझेदारी का पांचवां वर्ष है. वर्ष 1981 के बाद फिलीपींस की यात्रा पर जाने वाले मोदी पहले प्रधानमंत्री हैं. मोदी की इस अवसर पर राष्ट्रपति दुतेर्ते के साथ एक द्विपक्षीय बैठक होगी जिसमें दोनों देशों के बीच कृषि सहित विभिन्न क्षेत्रों में सहयोग केे कुछ करार भी होंगे. इस मौके पर प्रधानमंत्री की विश्व के कई अन्य नेताओं के साथ भी द्विपक्षीय बैठकें भी होंगी. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के भी इस सम्मेलन में हिस्सा लेने की संभावना है. मोदी ने फिलीपींस की यात्रा पर रवाना होने से पहले फेसबुक पर लिखा, “सम्मेलन में मेरा भाग लेना आसियान देशों के साथ भारत के गहरे संबंधों के प्रति प्रतिबद्धता का प्रतीक है. विशेष तौर पर सरकार की एक्ट ईस्ट नीति के संदर्भ में भारत- प्रशांत क्षेत्र का खास महत्व है.” उन्होेंने लिखा, “मैं 12 नवंबर से मनीला की तीन दिन की यात्रा पर रहूंगा. यह मेरी फिलीपींस की पहली द्विपक्षीय यात्रा होगी. इस दौरान मैं आसियान – भारत और पूर्वी एशिया सम्मेलन में भी भागीदारी करुंगा.” विदेश मंत्रालय के सूत्रों ने प्रधानमंत्री की अमेरिकी राष्ट्रपति के साथ बैठक की पुष्टि की है. दोनों नेता सोमवार को लगभग आधे घंटे सीधी बातचीत करेंगे. ट्रंप एशिया के पांच देशों की यात्रा के तहत मनीला आ रहे हैं. मोदी के मनीला पहुंचने पर विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट किया है कि भारतीय समुदाय ने प्रधानमंत्री का उत्साह से स्वागत किया.

आसियान नेताओं को नहीं परोसा जाएगा पोर्क
दक्षिण पूर्व एशियाई राष्ट्र संघ (आसियान) की 50 वीं वर्षगांठ के मौके पर आयोजित होने वाले रात्रि भोज में फिलीपींस का प्रमुख व्यंजन पोर्क (सुअर का मांस) अंतरराष्ट्रीय नेताओं तथा अतिथियों को नहीं परोसा जाएगा. फिलीपींस के राष्ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते 31 वें आसियान शिखर सम्मेलन में भाग लेने वाले नेताओं के सम्मान में पासाय के एस एम एक्स कन्वेंशन सेंटर में रात्रि भोज का आयोजन किया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी आसियान की महत्वपूर्ण बैठकों में भाग लेने के लिए मनीला पहुंच गए हैं. भोजन सूची को हालांकि गोपनीय रखा गया है लेकिन मुख्य शेफ जेसिए सिंसिओको ने बताया कि इस भोज में पोर्क को शामिल नहीं किया गया है.

भारत और कनाडा करेंगे आपसी संंबंध सृदृढ़ बनाने पर चर्चा
नयी दिल्ली. भारत और कनाडा आपसी भागीदारी मजबूत करने, व्यापक आर्थिक भागीदारी समझौते की वार्ता में तेजी लाने, वस्तु एवं सेवा के व्यापार को संतुलित बनाने तथा श्रमिक कार्य अनुमति के प्रावधानों पर मंत्रिस्तरीय बातचीत करेंगे. केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय ने आज यहां बताया कि भारत और कनाडा के वार्षिक मंत्रिस्तरीय बैठक का आयोजन कल यहां किया जाएगा. कनाडाई उच्च स्तरीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व कनाडा के अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मंत्री फ्रांकोईश फिलिप शैंपेन करेंगे जबकि भारतीय पक्ष की ओर से वाणिज्य एवं उद्याेग मंत्री सुरेश प्रभु प्रमुख होंगे. वार्ता के दौरान दोनों देशों के बीच आपसी व्यापार में तेजी लाने के तौर तरीकों पर चर्चा होगी. व्यापक आर्थिक भागीदारी समझौते की बातचीत को तेजी से पूरा करने, वस्तु एवं सेवा के व्यापार को संतुलित बनाने , व्यापार की नयी संभावनाएं तलाशने और विदेशी निवेश प्रोत्साहन एवं संरक्षण समझौते पर विचार विमर्श होने की संभावना है. चर्चा के दौरान कनाडा के अस्थायी विदेशी श्रमिक कार्यक्रम में भारतीय हितों की रक्षा की संभावनाओं पर भी बातचीत होगी. दोनों देशों के आपसी संबंध बहुत पुराने हैं. कनाडा में 12 लाख से अधिक भारतीय मूल के लोग रहते हैं. कुल आबादी में इनकी हिस्सेदारी तीन प्रतिशत है. दोनों देशों का मानना है कि दोनों पक्षों के बीच आपसी व्यापार की व्यापक संभावनाएं है जिनका इस्तेमाल के किया जाना चाहिए.

LEAVE YOUR COMMENT

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to Top