Navabharat – Hindi News Website
No Comments 16 Views

भारत के साथ न खेलने से हमारा क्रिकेट खत्म नहीं होगा: मियांदाद

कराची. पाकिस्तान के पूर्व कप्तान जावेद मियांदाद ने कहा है कि भारत के साथ द्वीपक्षीय सीरीज न खेलने से उनके देश में क्रिकेट खत्म नहीं हो जाएगा. मियांदाद ने यहां एक कार्यक्रम से इतर संवाददाताओ से बातचीत के दौरान यह बात कही. उन्होंने अपने ही देश के क्रिकेट बोर्ड को सलाह देते हुए कहा कि पाकिस्तान को भविष्य में भारत के साथ क्रिकेट खेलने के बारे में भूलकर अपने खेल ढांचे में सुधार पर ध्यान देना चाहिए. पाकिस्तान के लिए 124 टेस्ट और 233 वनडे मैच खेलने वाले मियांदाद ने कहा,“ वे हमसे नहीं खेलना चाहते हैं, तो ऐसा ही रहेगा. अगर हम भारत के साथ नहीं खेलते तो हैं इससे हमारा क्रिकेट खत्म नहीं होगा. हमें आगे बढ़ना चाहिए और उनके साथ क्रिकेट खेलने के बारे में भूल जाना चाहिए.” मियांदाद ने कहा कि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड पीसीबी को द्विपक्षीय सीरीज के लिये भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) से भीख मांगने की कोई जरूरत नहीं है. पूर्व कप्तान ने कहा,“ वे पिछले 10 वर्षाें से हमसे नहीं खेले हैं, तो क्या हुआ? क्या इससे हमारा क्रिकेट नीचे चला गया है? नहीं, हमने इस दौरान और अच्छा किया है और चैंपियंस ट्राॅफी में खिताबी जीत इसका उदाहरण है. पाकिस्तान में क्रिकेट खत्म नहीं हो सकता. 2009 के बाद हम बिना अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के ही हैं.” इससे पहले विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने भारत-पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय क्रिकेट सीरीज को किसी तटस्थ स्थान पर कराने की संभावना से इंकार किया था. उन्होंने विदेश राज्य मंत्री एमजे अकबर और विदेश सचिव एस जयशंकर के साथ संसद की सलाहकार समिति की एक बैठक में कहा था कि जब तक पाकिस्तान भारत के खिलाफ आतंक फैलाना और सैनिकों पर गोलीबारी करना बंद नहीं करता, तब तक दोनों देशों के बीच क्रिकेट सीरीज की कोई संभावना नहीं है. क्रिकेट के दो सबसे बड़े प्रतिद्वंद्वी भारत और पाकिस्तान ने दिसंबर 2012 में आखिरी द्विपक्षीय सीरीज खेली थी, तब भारत ने तीन वनडे और दो ट्वंटी-20 मैचों की सीरीज के लिए पाकिस्तान की मेजबानी की थी. भारत और पाकिस्तान ने 2007 के बाद से पूरी द्विपक्षीय सीरीज नहीं खेली है.

LEAVE YOUR COMMENT

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to Top